BPO Full Form and BPO Meaning In Hindi

दोस्तों क्या आप जानते है What Is BPo Meaning In Hindi? And Full Form of Bpo क्या होती है. आइये जानते है BPO के बारे में पूरी जानकारी और  इसकी Defination के बारे में हिंदी में. Business process outsourcing (BPO) एक Third Party द्वारा गैर-प्राथमिक व्यावसायिक गतिविधियों और कार्यों का Contract होताहै। BPO Services में पेरोल, मानव संसाधन (HR), Accounting services और customer care कॉल सेंटर शामिल होता हैं.

BPO = Business process outsourcing ( बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग )

BPO Full form और BPO की जानकारी हिंदी में

Full form of BPO यानि की Business process outsourcing एक ऐसी services है जिसमे किसी भी company के business में होने वाले process को सभालने के लिए बाहरी किसी outsourcing कम्पनी को कांटेक्ट दिया जाता है जिसके द्वारा business में बहुत सारी चीजे handal की जाती है जैसे human resources (HR) जिसके अंतर्गत कम्पनी में staff की कमी को पूरा करना भी होता है. इसी प्रकार outsourcing में Business में होने वाले लेन-देन के लिए Accounted भी रखे जाते हे.

BPO FULL FORM

B P O में customer की परेशानियो का हल निकालने के लिए customer care call center की services भी होती है, BPO का मुख्य उद्देश्य कम्पनी की flexibility को बढ़ाने में help करता है. आउटसोर्सिंग सर्विसेज provide  के मामले में India सबसे पहले नंबर पर आता   है.

अगर किसी Business process outsourcing कम्पनी को किसी और देश से Bpo services provide करने का contract मिलता है तो इसे Offshore Outsourcing कहा जाता है और अगर country के भीतर ही BPO service देने का कॉन्ट्रैक्ट मिलता है तो इसे Near shore Outsourcing के नाम से जाना जाता है.

Benefits of Business process outsourcing (BPO) 

  1. Cost Reduction: Outsourcing कम्पनियो को पैसे बचाने में मदद करता है, इसी वजह से लोग अपने business के लिए Outsourcing services का इस्तेमाल करते है. BPO कंपनियो को कम दामो में अच्छे workers/Employees provide करती है जो कम   salary में अच्छा और ज्यादा Profit का काम करके देते है जिससे कंपनियो की Income बढती है.
  2. Best Source of Customer Feedback: ज्यादातर BPO कर्मचारी कम्पनियो के ग्राहकों से सीधे जुड़े हुए होते है जिसका सबसे अच्छा फायदा यह होता हे की वे direct customer से product के बारे में उनकी राय(FEEDBACK) ले सकते है जिससे कंपनियो को एक अच्छा अनुभव मिलता है अपने प्रोडक्ट को लेकर इसके अलावा कॉल सेण्टर से Customer की परेशानी भी हल सकते हे.
  3. Availability of Experienced employee: किसी भी कम्पनी में नए कर्मचारियो की भर्ती करना और फिर उन्हें ट्रेनिंग देना सबसे महगा काम होता है जिससे समय भी बहुत लगता है लेकिन Outsourcing की मदद से कंपनियो को पहले से अनुभवी Employee को काम पर रखने से प्रशिक्षण की परेशानी आसानी से बच जाती है.
  4. Focus on Core Business: BPO का सबसे बड़ा फायदा यह भी होता है की जब company के ज्यादातर work की Responsibility outsoucring पर depend होती है तो ऐसे में कम्पनी के Management system को कम्पनी के बाकि के क्षेत्रो में व्यावसायिक निर्णय लेने में मदद होती है.
  5. Getting Latest Technologies Features: छोटे व्यवसायों वाली कंपनियो के लिए latest software के license खरीदना और भी अलग अलग कई प्रकार के टेक्नोलॉजी से जुड़े products को buy करना थोडा मुस्किल होता है. लेकिन BPO outsoucring में पहले से  latest software के  license ख़रीदे हुए होते   हे तो BPO की मदद से छोटी कंपनियो को कम पैसो में लेटेस्ट टेक्नोलॉजी भी मिल जाती है..

Also Read

Conclusion –

Dosto ये थी जानकारी BPO full form और BPO Hindi meaning और इससे होने फाये Benefits के बारे में मुझे आशा है की आपको ये जानकारी अच्छी लगी होगी और आप BPO के बारे में अच्छे से समज गये होगे अगर अब भी कोई सवाल बाकि हे तो कमेंट करके पूछ सकते हे.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *